X Close
X

कर्ज की बेदी पर पांच की गई जान,एक ही परिवार के 5 लोगो की मौत से मचा कोहराम


PicsArt_02-03-12.24.26-1-300x221
Ajmer:आज सुबह एक एसी घटना घटी जिसे सुन सभी के रौंगटे खड़े हो गए, और ये हृदयविदारक घटना ने पल भर में ही सभी को गमगीन कर दिया।  गोरखपुर । कर्ज की बेदी पर 5 की गई जान, एक ही परिवार के 5 सदस्यों की मौत से इलाके में मचा कोहराम, गोरखपुर में आज सुबह एक एसी घटना घटी जिसे सुन सभी के रौंगटे खड़े हो गए, और ये हृदयविदारक घटना ने पल भर में ही सभी को गमगीन कर दिया, घटना गोरखपुर के राजघाट थाना क्षेत्र का है। गोरखपुर के राजघाट थानाक्षेत्र में आज सुबह एक ही परिवार के 4 लोगों के शव मिलने से सनसनी फैल गयी। इस परिवार के मुखिया रमेश ने जहां ट्रेन से कटकर आत्महत्या की वहीं उसकी पत्नी तथा तीन बच्चों ने जहर खाया। इस घटना में एक लड़की अभी मेडिकल कालेज में जीवन मौत के बीच झूल रही है। बताया जा रहा है कि यह परिवार व्यापार में घाटे की वजह से लाखों के कर्ज में डूबा हुआ था और सूदखोरों की धमकी से परेशान होकर इस आत्मघाती कदम को उठाया। गोरखपुर के राजघाट इलाके के साहब गंज मंडी में आज सुबह एक ऐसी सनसनीखेज  – घटना सामने आई जिसने लोगों को हैरत में डाल दिया। इस इलाके के रहने वाले रमेश गुप्ता की छोटी बेटी को पड़ोसियों ने गम्भीर हालात में दरवाजे पर पाया और जब घर के अंदर गए तो वहां रमेश की पत्नी और दो बच्चे बिस्तर में मौत के आगोश में पाए गए। इन सभी ने रात के खाने में जहर मिलाकर खाया था। इसी बीच इस परिवार के मुखिया का शव भी सूरजकुंड इलाके में रेलवे ट्रैक के पास पाया गया। गोरखपुर के साहबगंज मंडी के निवासी व्यापारी रमेश गुप्ता की महेवा ग़ल्ला मण्डी में दलहन की दुकान है। रमेश ने गीडा इलाके में नमकीन की फैक्ट्री डाली थी और गुड़ का व्यापार भी करते थे। लेकिन फैक्ट्री के नहीं चलने की वजह से रमेश धीरे धीरे लाखों के कर्ज में डूब गए। इस कर्ज को भरने के लिए रमेश ने सूदखोरों का सहारा लिया और दूसरी व्यापार में पैसा लगाया लेकिन वहां पर भी घाटा होने की वजह से इन के ऊपर15 लाख से ऊपर की देनदारी हो गई। सूदखोर हर रोज रमेश की दुकान और घर तक आकर उनको धमकी देते और उनके साथ गाली-गलौज करते। इसकी वजह से परिवार पिछले 1 महीने से काफी परेशान रहने लगा था। रमेश ने हर जतन कर के देख लिया की कहीं से उसको कुछ फायदा मिल सके लेकिन हर जगह निराशा हाथ लगने की वजह से यह परिवार पूरी तरह से डिप्रेशन का शिकार हो गया था। रोज रोज की धमकी और सूदखोरों से बचने के लिए रमेश और उसके परिवार में ऐसा आत्मघाती कदम उठाया जिसकी कल्पना भी करना काफी मुश्किल हो जाता है। इस घटना में रमेश की पत्नी सरिता, बेटी पायल गुप्ता, और बेटे आयूश की मौत हुई है और एक बेटी रचना जीवन मौत से जूझ रही है। इस मामले में सभी शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है और पुलिस पूरे मामले की तहकीकात में जुट गई है।   The post कर्ज की बेदी पर पांच की गई जान,एक ही परिवार के 5 लोगो की मौत से मचा कोहराम appeared first on संस्कार न्यूज़.